राजनीति का विद्वान – जनप्रतिनिधी


image

भाई लोग यह राजनीति का विद्वान भी अजीब चीज है लुभाता सब को है पर बात पर टिकता ही नहीं और तो और सोच और विचार भी मौसमी ही होतें हैं, बदलते ही रहतें हैं, भले ही देश, राज्य,शहर का मौसम 66 सालों से एक सा ही हो…!!

जनता के नाम पर जडें अपनी जमाता है अमरबेल की तरह भले देश और विकास का वृक्ष सूख जाये किंतु ‘जनता और जनहित’ के नाम पर सब मंजूर..!

धर्म इनके लिये मानने की जरूरत ही नहीं बस धंधा है वोट का,भीड़ का और रोटियां नही पेटियां और पराँठे सेकने का, जब लगे कि सबकुछ जनजन में सैटल है तो खुद कडी सुरक्षा में रहते हुए असुरक्षित जनता की लानत सलामत कर देता है,कभी पार्टीवाद,कभी धर्म, कभी संप्रदायवाद तो कभी जातीय राजनीति के नाम पर और फिर यह हाहाकारी भयंकर विद्वान सब के बीच जा कर सांत्वना देकर निरपेक्षता का ढोल बजाना भी जानता है।

बस हम सब जानते हैं,समझतें हैं और यह विद्वान इसी का फायदा भी उठाता है कि उससे कोई पूछता ही नहीं कि “ऐ जनसेवक ये लोकतंत्र, प्रजातंत्र में राजतंत्र की राजनीति डाल कर लोकनीति, प्रजानीति कहां भगा दी? और तू जनसेवक से untouchable सत्ताशीन कैसे बन गया?”

बस हम पूछना चाहते भी नहीं जो खुद राष्ट्र के नहीं वो सब हमें राष्ट्रवादिता और राष्ट्रीयता सिखाने पर तुले हैं 65 साल से….हम तो इतने गये गुजरें हैं कि लीबीया,सीरीया,इजिप्ट,और कई दूसरे भी हम पर हंसतें हैं कि ले आये क्रांति..??

जो कभी हमारे यहां आ सके, क्योंकि हमें सिर्फ क्रांति नहीं अक्तूबर, सितंबर क्रांतियाँ चाहिये,,हमें बदलाव नहीं बदलाव के पूरक चाहिये -अन्ना,केजरीवाल,राहुल आदि इत्यादि ।

कहने को बहुत कुछ है लेकिन मैं बिचारा कूढमगज,उग्रवैचारिक अनपढ किस प्रकार और क्या क्या कहूं और वो भी किससे? सो बस यहां फेसबुकिया,ट्विटरी और ब्लॉगर विद्वान बन कर झूठ और सच दोनों को ही अपना आईना दिखवैया देता हूँ, अपनी भडास रूपी विचार आप सब पर जबरदस्ती डाल देता हूँ कि पढो बंधु बांधवों देखो “मैं भी विद्वान” हो गया हूं,लो अब रोजाना झेलो….बस फर्क इतना है कि मैं थोपा हुआ ,,चुना हुआ नहीं…… स्वयंभू हूँ बस…  !!

वन्दे मातरम्

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s