जिज्ञासाऐं,,,, और कुछ नहीं बस


image

image

1.) दुनिया की सबसे लीचड़ और जलील कौम भारत के बहुसंख्यक हिंदू हैै …!!

पर सबसे मजबूत और बाइज्जत कौम भारतीय मुसलमान ही है …!!

image

सबसे मजबूत ‘अल्पसंख्यक’ कौम वोट भी मजहब के आधार पर ही देती है सो सब राजनैतिक बहुसंख्यक अपनी अपनी श्रद्धानुसार ताकतवर और संगठित बा ईमान मजहब वालों के पिछवाडे और तलवे ही चाट कर भाईचारे की ताली नहीं बल्कि चुटकियां बजाते हैं वो भी डर के मारे थरथर कांपते हुऐ..!!

लेकिन इसके उलट सर्वथा लीचड ,जलील “बहुसंख्यक” हिंदू तो सेक्यूलरिज्म, भाईचारे की घाघरा चोली पहन कर अजाने लगवाते हैं, इफ्तारे खाते हैं और वोट भी थरथर नाचते हुऐ सेक्यूलरिज्म के नाम पर सांप्रदायिक ताकतों के विरोध में ईमान वालों की ताकत को मजबूत करने के लिये देते हैं…!!

बोलो है कि नहीं ….??

जिज्ञासाऐं, ,और कुछ नहीं बस.

image

2.) कश्मीर में जनमत संग्रह के लिये पाकिस्तान और पाकिस्तान रेडियो भी आधिकारिक रूप से गद्दारों के गिरोह आम आदमी पार्टी और भौंकडीवाल की मांग मानने की बात कह रहा है ।

मोदी जी द्वारा कल ही भौंकडीवाल को पाकिस्तानी ऐजेंट कहने पर पाकिस्तान रेडियो की आधिकारिक मोहर….!!

मित्रों ये तो कहो कि ये यूपी, बिहार ही इतने सेक्यूलर गद्दार पैदा कैसे कर लेते हैं….??

जिज्ञासाऐं …और कुछ नहीं बस.

image

3.) मित्रों इस साल लगता है, ये 370 नामक संख्याएं बहुत जबरदस्त होने वाली है ….

• केजरीवाल का शीला सरकार के खिलाफ “फाईल 370” वाले पन्नों के सबूतों का अदृश्य हो जाना …!

कश्मीर की नामुराद “धारा 370” का अलगाववाद फैलाते रहना …!

मलेशिया की फ्लाईट “MH – 370” का अदृश्य हो जाना ….!!

और अब सन् 2014 में कहीं एनडीऐ को मोदी नेतृत्व की संसद में “सीट 370” का प्रचंड बहुमत मिलकर हमारा स्वप्न भी सच हो कर यूपीऐ व सहयोगियों के मुंह पर कालिख पुते तो कैसा रहे …??

जिज्ञासाऐं,,,, मित्रों और कुछ नहीं बस

image

4.) आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता जैसी थोथी बात कहने वाले शुर्तुमुर्ग नुमा बुद्धि से लदेफदे जहरीले बुद्धिजीवियों की बेइज्जती में अकाट्य सत्य अर्ज है –

” शिष किरपिन गुरु स्वारथी, किले योग यह आय ,
कीच-कीच के दाग को, कैसे मुसलमान सके छुड़ाय..?”

जबरदस्त जिज्ञासाऐं ,,, और कुछ नहीं बस.

image

image

5.) जैसे मुरदे के बाल काटने से मुरदे का बोझा कम नहीं होता पर मुरदे के बाल बोझा कम करने के नाम पर काटना तो पाखंड ही है ,,
सो सर्टिफाईड़ “सेक्यूलर” कांग्रेसियों समेत चरबीगोला संकटाचार्य की धार्मिक भावनाओं का हर हर मोदी नारे से आहत होना बिलकुल ऐसा ही पाखंड है…नहीं..??

जिज्ञासाऐं,,,और कुछ नहीं बस

image

6.) आश्चर्यजनक है कि नेताजी बोस, चंद्रशेखर आजाद और भगत सिंह सरीखों को अपना आदर्श मानने वाले तथाकथित उग्र देशप्रेमी हमेशा अपने देश के लिए मरने की तो ‘बात’ करते हैं ,,पर कभी अपने देश के लिए “मारने” यानि शत्रु विनाश की अब बात ही नहीं करते….??

यानि सबकी तथाकथित देशभक्ति और मानसिकताऐं अहिंसावादी हैं,,?
अहिंसा परमो धर्म: के आधी अधूरी मानसिक विक्षिप्त सी कायर व्याख्या की ही अनुगामी है ,,, नहीं…??

image

मित्रों , सच्ची देशभक्ति तब है जब ‘अपने लोगों’ के प्रति प्रेम पहले आये ; और सच्चा राष्ट्रवाद तब जब अपने लोगों के अलावा “और लोगों /शत्रु लोगों के प्रति” नफरत पहले आये ..नहीं..?

जिज्ञासु की जबरदस्त जिज्ञासाऐं,,,,और कुछ नहीं बस

image

image

image

7.) साँपों को आजादी है हर बसते घर में बसने की
इनके सर में ज़हर भी है और आदत भी है डसने की

इंसानों में भी सांप बहुत हैं क़ातिल भी ज़हरीले भी
इनसे बचना भी मुश्किल है, आज़ाद भी हैं फुर्तीले भी

हम भेड़ें लातादाद हैं लेकिन सबको जान के लाले हैं
इनको यह तालीम मिली है भेड़िये ताक़त वाले हैं

मांस भी खायें खाल भी नोचें हरदम लागू जानों के
भेड़ें काटें दौरे-ग़ुलामी बल पर गल्‍लाबानों के

भेडियों से गोया क़ायम अमन है इस आबादी का
भेड़ें जब तक शेर न बन लें नाम न लें आज़ादी का..!!
बोलो है कि नहीं….??

जिज्ञासाऐं,,,,,और कुछ नहीं बस

image

8.) वर्तमान भारत में और हर राज्य में –
1.) अनुसूचित जाति व जनजाति आयोग है !
2.) पिछडा वर्ग आयोग है !
3.) अल्पसंख्यक आयोग है !
4.) मानवाधिकार आयोग है !
5.) महिला आयोग है !
6.) बाल कल्याण आयोग है !

किंतु हम सवर्णों के लिये ‘सवर्ण आयोग’ क्यों नहीं है….?

क्या सवर्णों के अधिकार नहीं हैं..??

क्या सवर्णों को सामाजिक व राजनैतिक, आर्थिक रूप से प्रताडित नहीं किया जा रहा है ..??

image

क्या सवर्ण शिक्षा, विकास, प्रगति, रोजगार में राष्ट्रीय स्तर पर पक्षपात से पिछडते नहीं जा रहे हैं ..??

आजतक सामाजिक न्याय की बात करने वाले थोथेवादियों का ध्यान क्यों नहीं गया इस विषय पर …जवाब दो…??

image

मैं वर्तमान भारत सरकार, राजस्थान सरकार समेत भावी केंद्र सरकार से मांग करता हूँ कि अतिशीघ्र अखिल भारतीय स्तर पर हर राज्य में “सवर्ण आयोग” बनाया ही जाये क्योंकि यदि आने वाले दस साल अभी भी दलित व पिछडों के ही होंगे तो यूं भी 66 साल में तथा पिछले 25 साल से हाशिये पर सवर्ण ही पहुंचाया गया है…सो सवर्णों के अधिकार की रक्षा हेतु ‘सवर्ण आयोग’ की स्थापना शीघ्रातिशीघ्र की जाये…!!

सवर्ण आयोग की स्थापना क्यों नहीं हो ..??
जिज्ञासाऐं ,,,,, और कुछ नहीं बस

image

9.) मोदी जी के अलावा देश में कहीं भी किसी पार्टी नेता के मुंह से “रोजगार, विकास, रक्षा, सुरक्षा, करों में राहत, शिक्षा, चिकित्सा ” जैसे शब्द, उससे संबंधित नीति या योजनाएँ अथवा विजन की बातें मुझको तो सुनाई ही नहीं दे रही….!!

काँग्रेस और उसके पप्पू की तो बात ही क्या करें ही, वो तो भूतकाल के मानसिक कोमा से बाहर ही नहीं निकल रहे ,, 1970 से रोटी, कपडा मकान तो कर ही रहे हैं अब 2014 में रोटी,कपडा,मकान के साथ साथ दादी, पापा,मम्मी भी करे जा रहा है – मैं तो रॉल विंसी उर्फ राहुल नकली गांधी को यही कहूंगा कि
“तीर तुपक से जो लड़े, सो तो शूर न होय ।
माया तजि भक्ति करे, सूर कहावै सोय ॥”

अब रही बात आपा के केजरीवाल की तो अब क्या कहूं उसके नखरों और भगौडेपन से लेकर ‘लॉईरान्डपने’ के बारे में वो सबकुछ तो आज भी ताजा ताजा है, फिर भी महान सेक्यूलर कबीरदास जी विशेषतया शायद इस केजरी के बारे में ही कह गये थे –
” नहाये धोये क्या हुआ, जो मन मैल न जाय ।
मीन सदा जल में रहै, धोये बास न जाय ॥ ”

image

बस मित्रों , मुझे नहीं पता कि क्या राजनैतिक रूप से सही है और क्या गलत क्योंकि मैं राजनीति के चश्मों से नहीं देखता, मैं सिर्फ सही और गलत ही देख पाता हूँ, जीवन का बहुत साधारण गणित है जिसमे प्लस है और माईनस पर इनके बीच या अलावा कुछ और नहीं और गुणा है तथा भाग भी पर उनके बीच भी कुछ और नया प्रयोगात्मक नहीं… सो जीवन प्राकृतिक है, प्राकृतिक नियम से ही चले क्योंकि राजनीति से प्रकृति नहीं चलती खुद राजनेता ही उदाहरण हैं..बोलो है कि नहीं….??

” बूँद पड़ी जो समुद्र में, ताहि जाने सब कोय ।
समुद्र समाना बूँद में, बूझै बिरला कोय ॥”

जिज्ञासाऐं ,,,,, और कुछ नहीं बस


Posted By Dr. Sudhir Vyas at sudhirvyas’s blog in WordPress

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s